Friendship day 2022: सच्चे दोस्त की पहचान के लिए जानिए ये 10 signs जो एक सच्चे मित्र मे होते है

0
(0)

 

Friendship day 2022 पर जनिये सच्चे दोस्त की पहचान कैसे करे – 

आप अपनी लाइफ में बहुत से दोस्त बनाएंगे, लेकिन कई दोस्त आपकी फैमिली जैसे होंगे और कई दुश्मन से भी ज्यादा बुरे। बाहर से तो हर दोस्ती सेम ही लगती है और कई बार तो ऐसा भी होता है कि आपको समय निकलने के बाद एक सच्चे मित्र की वेल्यू समझ आती है।

इसी वजह से हम इस article (सच्चे दोस्त की पहचान कैसे करे) में ऐसे 10 signs की बात करेंगे, जिनकी मदद से आप बहुत ही असानी से ये समझ पाओगे कि आपको अपने किन दोस्तों के साथ रिश्ता कभी नहीं तोड़ना है और कौन से दोस्तों से थोड़ा दूर रहना सही है क्योकि कोई वो आपके सच्चे दोस्त नहीं है।

4 real friends enjoying

सच्चे दोस्त की पहचान कैसे करे पहचाने ये 10 signs

1. वो आप में आप से ज्यादा विश्वास रखते हैं।

एक अच्छा दोस्त वो होता है जो आपकी true potential को जानता है वो आपको हमेशा मोटिवेट करता रहता है और आपको ये याद दिलाता है कि आप क्या करने के capable हो ताकि आप अपने रास्ते से भटके ना और खुद को डाउट न करें।

बहुत से लोग ऐसे होते हैं जिनमें कोई छुपा हुआ टैलेंट या फिर दुनिया को बदलने की ताकत तो होती है, लेकिन वो मुश्किल समय में खुद को डाउट करने लगते हैं।

ऐसे समय पर ही सच्चे दोस्तों की जरूरत होती है जो आपको वापस ट्रैक पर आने में मदद करें और आपके अंदर मौजूद आग को कभी बुझने ना दें।

ये भी पढ़े –

7 Psychological facts about friendship

8 psychological facts about personality

23 psychological  facts about sex

10 amazing psychological facts in hindi

2. सच्चे दोस्त आपकी दोस्ती के पीछे एक बड़ा purpose देख पाते हैं।

दोस्ती सिर्फ मजा करना और memory बनाना नहीं है ये सब चीजें भी दोस्ती का एक ज़रूरी पार्ट है लेकिन इसके अलावा एक सच्चा दोस्त जानता है कि वो आपके साथ सिर्फ एक ही मेन रीजन के लिए है और वो है आप दोनों की growth.

जिस तरह से एक रिलेशनशिप का heighest goal सिर्फ फिजिकल इंटिमेसी नहीं होती वैसी ही एक दोस्ती का गोल भी खेल और मस्ती नहीं है। अगर आप अपनी लाइफ में सही रास्ते पर चल रहे हो तो आपको ऐसे बहुत से दोस्त मिलेंगे जिनकी पोटेंशल आपको तो दिखी होगी लेकिन वो ना तो खुद को इतना सीरियसली लेते हैं और ना ही आप दोनों की दोस्ती को भी। 

दूसरी तरफ कई  दोस्त आपको ऐसे भी मिलेंगे जो आपके बिल्कुल पैरलल चल रहे होंगे और वो आपको एक बहुत ही गहरे लेवल पर समझ पाएंगे। उनको पता होगा कि आप दोनों की दोस्ती चाहे लंबी चले या ना चले  उनका गोल इस दोस्ती में बस इतना है कि वो आपकी ग्रोथ में कुछ कंट्रीब्यूट कर दें।

यानी एक real friend के मिलने का एक बहुत बड़ा साइन ये होता है कि उनके आते ही आप दोनों की जिंदगी में बदलाव आता हैं और आप दोनों साथ में जीने लगते हो।

3. असली दोस्त आपसे झूठ नहीं बोलते।

एक असली दोस्त होने का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि आपको पता है कि चाहे आप किसी भी प्रॉब्लम में हों, आप कोई डिसीजन नहीं ले पा रहे या फिर आप कहीं खुद को ही आगे बढ़ने से रोक रहे हो तो आपका दोस्त आपको बिना किसी हिचकिचाहट के ही सच बताएगा और आपको अपने झूठों से ऊपर उठने में मदद करेगा।

जहां एक fake friend आपकी नजरों में बुरा बनने के डर से आपको कभी भी आपकी कमियां या फिर गलतियां नहीं बताता वहीं एक सच्चा मित्र के लिए आपकी ग्रोथ मायने रखती है।फिर चाहे आपको सच बताने से आपकी फीलिंग्स ही क्यों न hurt जाएं।

एक असली दोस्त आपकी केयर करता है और जो लोग आपकी केयर करते हैं सिर्फ वो ही आपको सच बताने का जोखिम लेते हैं वरना हर कोई आपकी पीठ पीछे ही आपकी बुराई करेगा और मुंह पर स्वीट बनेगा।

4. सच्चे दोस्त मुश्किल समय में आपका साथ नहीं छोड़ते है।

ये कहावत बिल्कुल सही है कि a friend in need is a friend indeed. क्योंकि अगर आप किसी इंसान को अपना दोस्त बोलते हो और हर बार जब आप किसी मुश्किल में आते हो तब वो इंसान गायब हो जाता है और आपको सपोर्ट ना करने के लिए बहाने बनाता रहता है तो ऐसा इंसान आपका दोस्त तो क्या वो तो आपके दुश्मन से भी गया गुजरा है।

क्योंकि  दुश्मनों के केस में भी आपको ये मालूम होता है कि उनके अंदर आपके लिए कैसी फीलिंग्स हैं और क्यों वो आपको उनसे बचकर रहना है लेकिन एक झूठा फ्रेंड आपसे बस अपना मतलब निकालने के लिए दोस्ती करता है और खुद इस रिलेशनशिप में कुछ कॉन्ट्रिब्यूट नहीं करता।

इसलिए अगर आपके दोस्त आपके उतार और चढ़ाव दोनों समय में आपके साथ रहें सिर्फ तब ही वो आपके असली दोस्त होंगे और वो दिल से आपका भला चाहते होंगे।

 5. सच्चे मित्र आपकी सक्सेस से जलते नहीं बल्कि आपको और सक्सेसफुल होने में मदद करते हैं।

कई फ्रेंड्स ऐसे होते हैं जो बस आपके साथ तब तक होते हैं जब तक आप उन्हीं के लेवल पर होते हों, लेकिन जैसे ही आप ग्रो करने लगते हो वैसे ही वो आपसे जेलस होने लगते हैं और वो खुद ब खुद आपसे दूर हो जाते हैं।

लेकिन एक सच्चा दोस्त आपके अंदर छुपे खजाने को तभी पहचान लेता है जब आप अपने जीरो पर होते हो और वो पूरी जर्नी में आपको ग्रो होते हुए देखता भी हैं और आपको हर मोड़ पर अगले लेवल पर पहुँचने के लिए मदद भी करता है।

शुरू में ये जानना बहुत ही मुश्किल होता है कि क्या आप बाकी लोगों जैसा ही हो या फिर क्या आप यूनीक हो ?

एक अच्छा फ्रेंड आपकी इस यूनीकनेस के बीज को पानी भी देगा और at the same time आपको हंबल रहना भी सिखाएगा।

यह भी पढ़े – 

इंटरस्टिंग कैसे बने?

इंटेलीजेंट कैसे बने?

सबकी पसंद कैसे बने?

अपनी इंसल्ट का जवाब कैसे दे?

 6. एक सच्चे दोस्त की पहचान ये है की उस पर रिलाय करा जा सकता है।

एक real friend कोई ऐसा इंसान नहीं होता जो झूठे प्रॉमिस  करे और जब वादा निभाने का समय आए तो पीछे हट जाएं। आपको पता होता है कि चाहे आप कितनी भी बड़ी प्रॉब्लम में क्यों न फंस जाओ आपका सच्चा दोस्त आपको हेल्प करने में उतनी ही मदद करेगा जितना वो खुद के मां बाप या भाई बहन के लिए करता क्योंकि आप भी उसकी फैमिली के जैसे ही हो।

7. आप उनके साथ रहने पर एनर्जी फील करते हों।

आपने ये बहुत बार नोटिस किया होगा कि जब भी आप किसी ऐसे इनसान के साथ हैंगआउट करते हो जो आपके ज्यादा क्लोज नहीं है और आपको अंदर से पता है कि वो आपकी उतनी परवाह भी नहीं करता तो आप उसके साथ चाहे कितनी मर्जी interesting चीज़े करलो end में आप हमेशा मेंटली थके हुए ही वापस आते हो।

आप दूसरों के आगे खुश होने का ढोंग तो कर रहे होते हो, लेकिन आपकी बॉडी की केमिस्ट्री एक दूसरा ही सच बोल रही होती है और आपके नाटक की वजह से आपकी बॉडी में स्ट्रेस बनने लगता है इसी स्ट्रेस की वजह से आप अपने फेक फ्रेंड्स के साथ समय बिताने पर थके हुए फील करते हो।

लेकिन एक real friend के साथ आपको कोई नाटक नहीं करना पड़ता बल्कि आप असलियत में खुश होते हो और स्ट्रेस की बजाय आपकी बॉडी हैप्पी हॉर्मोन से भर जाती है जिस वजह से आप ज्यादा एनर्जी और आनंदित महसूस करते हों।

8. Real friend की हर मुलाकात पहली जैसी लगती है।

असली प्यार की ही तरह असली दोस्ती भी कभी बूढ़ी नहीं होती वो सदा ही जवान और फ्रेश रहती है।

यानि चाहे आप अपने सबसे पक्के और असली दोस्त से रोज मिलो या सालों बाद आपको उनकी प्रेजेंस में ऐसा ही फील होता है कि आप उनसे पहली बार मिले हो।

याद रखो सिर्फ नकली चीजें पुरानी होकर अपना जादू खो देती हैं और मर जाती हैं, जबकि असली चीजें असली प्यार, असली सच और असली दोस्ती कभी खत्म नहीं होते।

दोस्ती एक ऐसी चीज है जो दूरी से और पक्की होती जाती है लेकिन आप ये फीलिंग कभी भी अपने आम और super ficial दोस्तों के साथ फील नहीं करोगे वो न तो खुद ग्रो हो रहे होते हैं और ना ही इस वजह से आपकी और उनकी दोस्ती ग्रो करती है। जबकि असली दोस्त दूर रहकर भी साथ में ग्रो कर रहे होते हैं।

9. सच्चे दोस्त की पहचान है की वो आपका फायदा नहीं उठाते।

हर असली दोस्त आपको कभी यूज नहीं करेगा और अगर वो आपसे कभी एक लेगा तो 10 वापस देगा। कुछ ऐसी नेचर होती है एक deep bond की क्योंकि वो ग्रोथ का एनवायरमेंट होता है, वहां हर चीज मल्टीप्लाई होती चली जाती है।

दो गहरे दोस्त कभी भी एवरेज इनसान की तरह नहीं रह सकते क्योंकि उनके बॉन्ड का गहरा पन उन्हें खुद की पोटेंशियल तक पहुंचने और अपने बेस्ट वर्शन को बाहर लाने में मदद करेगा।

एक true friend कभी भी ये नहीं सोचता कि वो आपसे क्या ले सकता है बल्कि वो ये सोचता है कि वो आपको क्या दे सकता है।

ये बेनेफिट आपको किसी fake friend के साथ नहीं मिलेगा। आप उसके साथ ग्रो करना तो दूर बल्कि आप जिस लेवल पर पहले थे, आप उससे भी नीचे जाओगे।

इन्हे भी देखे –

पोर्न देखना कैसे छोड़े?

हस्तमैथुन के फायदे व नुकसान क्या क्या है?

पाचन तंत्र को ठीक करने के घरेलु उपाय

आलस कैसे दूर करे?

 

10. Real friend पब्लिक में आपका मजाक नहीं उड़ाते ।

 एक सच्चे दोस्त की पहचान का ये साइन आप अपने पार्टनर, रिलेटिव्स, फ्रेंड्स किसी में भी नोटिस कर सकते हो कि वो पब्लिक में आपको कैसा ट्रीट करते हैं।

क्या वो वैसी ही है जैसे वो आपके साथ अकेले में होते हैं। क्या वो ज्यादा स्वीट बन जाते हैं या फिर क्या वो खुद को सबके आगे सुपीरियर दिखाने के लिए आपको नीचा दिखाते हैं और आपका मजाक उड़ाते हैं।

पब्लिक में लड़ना या फिर एक दूसरे का मजाक उड़ाना एक बहुत बड़ा रेड फ्लैग होता है क्योंकि पब्लिक में लड़ना या फिर एक दूसरे का मजाक उड़ाना एक बहुत बड़ा रेड फ्लैग होता है क्योंकि आपकी बेज्जती करके और फिर आप को ही अपना दोस्त बोलकर वो सिर्फ आपको ही नहीं बल्कि खुद को भी एक बेवकूफ की तरह पेश कर रहे होते हैं। जो इनसान एक बेवकूफ का दोस्त होता है वो खुद भी बेवकूफ ही होता है।

इसलिए एक असली दोस्त चाहे आपसे जितना मर्जी भी नाराज हो तब भी वो पब्लिक में ऐसा ही दिखाएगा जैसे कुछ हुआ ही नहीं है क्योंकि उसका पर्पस आपको नीचा दिखाना या फिर आपको हराना नहीं बल्कि आपके साथ ग्रो करना है ।

तो दोस्तों ये था हमारा article (सच्चे दोस्त real friend की पहचान कैसे करे) जिसमे हमने बात करी उन 10 signs की जो एक सच्चे मित्र मे होता है।

अगर आप इस लेख को web story के रूप मे देखना चाहते हो तो यह देख सकते हो।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Leave a Reply

Your email address will not be published.