How to become likeable person ( सबकी पसंद कैसे बने?)

0
(0)

How to become likeable person ( सबकी पसंद कैसे बने?) –

हर इनसान में deferent level की social skills होती है कई लोग नैचुरली ही ज्यादा charming होते हैं और आसानी से सबकी पसंद ( likeable) बन जाते हैं और कई लोगों को खुद को इंट्रोड्यूस करने में भी बहुत ज्यादा एफर्ट लगाना पड़ता है क्योंकि वो या तो सोशली ऑकवर्ड या फिर इंट्रोवर्ट होते हैं। इसका मतलब likeable बनना कई लोगों के लिए दूसरों से ज्यादा इम्पॉर्टेंट होता है और जहां हम हर समय और हर इंसान के लिए likeable नहीं बन सकते वहीं हम कई ऐसी ट्रिक्स का जरूर इस्तमाल कर सकते हैं, जो हमारी likeability को जनरल सेंस में बढ़ा सके और हमें सबकी पसंद व ज्यादा memorable बना सके।

How to become likeable person ( सबकी पसंद कैसे बने?) –

1.Get others to talk about what they love

दूसरों की नजर में खुद को likeable बनाना खुद की तारीफें करने से शुरू नहीं होता। ऐसा इसलिए क्योंकि हर इंसान को दूसरों के बारे में सुनने से ज्यादा खुद के और उन चीजों के बारे में सुनना पसंद होता है, जिनके लिए वो पैशनेट है। आपने स्पेसिफिकली एक कन्वर्सेशन में ये पूछना है कि उस इनसान को जो चीज पसंद है वो उसे क्यों पसंद है और क्यों वो उसके लिए मीनिंगफुल है।

कभी भी किसी से जनरल इमोशंस मत पूछो कि उसे कोई मूवी कैसी लगी या फिर वह आजकल क्या कर रहा है?  ऐसे questions कन्वर्सेशन को डीप जाने से रोकते हैं और दूसरों को सोचने पर मजबूर नहीं करते क्योकि  इन बेसिक question के आंसर्स हर इंसान के दिमाग में पहले से प्रिपेयर होते हैं।

आपने ऐसे question पूछने हैं जो उनके अंदर पोजिटिव इमोशंस जगाएं और तभी जैसे ही आप उनको उनकी ही कहानियों में गहरा लगाना शुरू करोगे तब उसी पॉइंट से लिए उस कन्वर्सेशन की वैल्यू को मेंटेन करना ईजी हो जाता है और सामने वाला भी आपसे ज्यादा क्लोस और आपके साथ कंफर्टेबल फील करने लगता है। उस इनसान को कन्वर्सेशन का टॉपिक चाहे याद रहे या ना रहे लेकिन वो हमेशा ये याद रखेगा कि उसने आपके साथ बात करते हुए कितना अच्छा फील करा और वो subconciously आपको पॉजिटिव फीलिंग्स और joy से रिलेट करने लगेगा।

2. Only compliment what they have worked for

likeability के इस पॉइंट पर ध्यान देना बहुत जरूरी होता है क्योंकि जब भी आप एक क्लियरली ब्यूटिफुल, फ़ीट या स्मार्ट इनसान को उनकी ओवरऑल क्वॉलिटीज के लिए compliments करते हो तब उसमें कुछ भी ओरिजिनल नहीं होता।

एक ब्यूटीफुल इनसान दिन में 10 बार 10 लोगों से सुनता है कि वो कितना ब्यूटिफुल है और एक के बाद ओवेंस कॉम्प्लिमेंट से मिलने वाला प्लेजर कम होने लग जाता है। जिसके बाद वह कॉम्प्लिमेंट उनके लिए उतना इम्पोर्टेन्ट नहीं रहता।

लेकिन अगर आपको किसी तरह से यह पता चल जाता है कि वो इनसान किन चीजों पर बहुत ज्यादा मेहनत कर रहा है और उनके साथ अभी भी स्ट्रगल कर रहा है और आप उन चीजों को नोटिस करके उनपर compliment दो तो ये चीज उन्हें बहुत डीपली इम्प्रेस और खुश करेगी। हर इंसान को खुद की स्ट्रेंथ की तारीफ सुनने में थोड़ा मजा आता है, लेकिन जब आप उनके weak और स्ट्रगलिंग पॉइंट्स पर रोशनी डालकर उन्हें शाबाशी देते हो तो ये चीज़ उनपर एक अलग ही impact डालती है।

इसलिए हमेशा लोगों को सिर्फ उन्हीं चीजों पर compliment दो जिन पर वह मेहनत कर रहे हैं। लोगों की मदद करो उनकी इनसिक्योरिटी इसको उनकी बेस्ट क्वॉलिटी बनाने में और देखो कि वो आपकी तरफ कितनी जल्दी likeability डेवलप करने लगते हैं।

3. Don’t hesitate to a joke

अक्सर हम लोगों से बात करते हुए बहुत ही टेंस,ऑकवर्ड या फिर सीरियस हो जाते हैं स्पेशली अगर आप एक ग्रुप में हो तो ये एकदम परफेक्ट समय होता है ग्रुप वो conformity को तोड़ने का एक joke के साथ।

किसी को भी सीरियस माहौल नहीं पसंद सीरियसनेस अक्सर एक पॉइंट के बाद स्ट्रेस में बदल जाती है। इसलिए जब भी कोई हिम्मत करके माहौल को ठंडा करने की कोशिश करता है तब सब लोग एक चैन की सांस लेते हैं और उस इनसान को ज्यादा लाइक करने लगते हैं। अगर कोई आपके joke को अप्रिशिएट ना भी करे तब भी आप इस तरह से खुद को बाकियों के बीच known बना लेते हो और अटेंशन likeability का सबसे पहला स्टेप होता कि।

इसे साइकोलॉजी में बोला जाता है Exposure effect  यानी अगर आप किसी इंसान को शुरुआत में पसंद नहीं आए, लेकिन अगर आप बार बार उनके सामने आते हो या फिर उन्हें खुद के बारे में सोचने पर मजबूर करते हो तो वह खुद ही धीरे धीरे आपको एक पॉजिटिव लाइट में देखने लगते हैं और आपको like करने लगते हैं।

4. Show respect other person opinions

तु गलत है और मैं सही हूं यह मैसेज कभी भी आपको नए दोस्त बनाने में मदद नहीं करेगा। एक कन्वर्सेशन को पैराडॉक्सली आप सिर्फ तभी जीत पाते हो जब आप जीतने की कोशिश करना और उस कन्वर्सेशन को डोमिनेट करना बंद करते हो और दूसरों की Opinions की respect करते हो।

ये मैटर नहीं करता कि किसी की opinion आपकी नजर में कितना गलत लॉजिकल और बेकार है। अगर आप एक्चुअल में उनकी गुड बुक्स में आना चाहते हो तो आप कभी भी उन्हें सीधे ये मत बोलो कि वो गलत है बल्कि बस इतना बोलो कि मे समझ सकता हु तुम क्या कहना चाहते हो,मेरा ओपिनियन तो यह है।

5. Give the other person a good reputation to live up to

यहां पर आप बेसिकली दूसरे इंसान के मन में आपके तरफ अच्छा बने रहने की वजह डाल रहे होते हो यानी नॉर्मली जब हम नए लोगों से मिलते हैं तब हम बात करते हैं, मन ही मन उनकी हर छोटी बड़ी क्वॉलिटी में कमियां निकालते हैं, उनकी बॉडी लैंग्वेज को observe करते हैं और उन्हें अपने ही दिमाग में अच्छा या फिर बुरा लेबल कर देते हैं और वो इंसान भी आपके साथ यही same चीजें कर रहा होता जो।

हलाकि साइकोलॉजी की समझ आपको इस पूरे प्रोसेस को स्किप करने में मदद कर सकती है। इसका मतलब आपने सिंपली किसी से भी मिलने पर उन्हें वो बात बोल देनी है जो आप उनसे सुनना चाहते हों और एग्जाम्पल अगर आप चाहते हो कि कोई इंसान आपकी केयर करे और आपके साथ एक deep bond बनाएं तो आप उन्हें ये बोल सकते हो कि मुझे तो तुम्हारे साथ बहुत अच्छा लगता है क्योंकि तुम मुझे बहुत ही केयरिंग और सिंसियर इंसान लगते हो।

अगर आप चाहते हो कि वो आपके साथ लॉयल रहे तो उन्हें ये बताओ कि किस तरह से आपको उनकी ये बात सबसे ज्यादा रिस्पेक्ट के काबिल लगती है कि वो आपके साथ इतने लॉयल हैं। यानी उनको इनडायरेक्टली ये सिग्नल दो कि आपके दिमाग में उनकी पर्टिकुलरली पॉज़िटिव रेपुटेशन है और ऐज़ ह्यूमन्स हम अपनी बनी बनाई रेपुटेशन को बिगाड़ने नहीं चाहते  इसलिए वो कुछ भी करेंगे आपकी नजरों में अच्छा बने रहने के लिए और वो जाने अनजाने में आपको like भी करने लगेंगे।

तो दोस्तों ये था हमारा आर्टिकल How to become likeable person ( सबकी पसंद कैसे बने?) जिसमे हमने बात की दुसरो की पसंद कैसे बने? हमे उम्मीद है यहा आपको पसंस आया होगा।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Leave a Reply

Your email address will not be published.