मेंटली स्ट्रांग लोगो की 5 आदते ( 5 Habits of mentally strong people in hindi )

0
(0)

Mentally strong लोगो की आदते (Habits of  mentally strong people in hindi ) –

Mentally strong (मेंटली स्ट्रांग) लोग बचपन से ही अपनी mental muscles  साथ पैदा नहीं होते बल्कि असलियत में mental strenth develop  करी जाती है अच्छी आदतों से। यही वह आदते होती हैं जो इन लोगों को बाकियों से अलग बनाती हैं।

इसलिए आज हम mentally strong ( मेंटली स्ट्रांग) लोगो की आदतों के बारे मे बात करेंगे जो बहुत  simple भी और अगर आप इन्हें प्रेक्टिस करना शुरू करो तो बहुत जल्द ही आप भी metally strong बन जाओगे।

 mind
Mentally strong mind

 मेंटली स्ट्रांग  लोगो की 5 आदते (Habits of  mentally strong people in hindi ) 

 

 1.  Mentally strong लोग उन चीजों पर फोकस नहीं करते जिन्हें वो cantrol नहीं कर सकते।

जो लोग mentally strong  नहीं होते हैं वो उन चीजों पर फोकस करते हैं जिन्हें वो कंट्रोल नहीं कर सकते।

दूसरी तरफ जो लोग mentally strong  होते हैं, वो सोचते हैं कि भले ही ये कंप्लेन सही है लेकिन कंप्लेन करने से मुझे क्या फायदा। मैं उन चीजों पर फोकस करूंगा जिन्हें मैं कंट्रोल कर सकता हूं।

अगर एक mentally strong  ( मेंटली स्ट्रांग) आदमी का कोई बिजनेस है तो क्या वो इस बात पर फोकस करता है कि आजकल लोग अच्छे प्रोडक्ट्स पसंद नहीं करते, सरकार के रेगुलेशंस कितने स्ट्रिक्ट हैं, नहीं वो तो अपने प्रोडक्ट्स पर फोकस करता है और खुद से यह सवाल करता है कि मैं किस तरह अपना प्रोडक्ट इम्प्रूव कर सकता हूं, जिससे कस्टमर्स मेरे प्रोडक्ट के बिना ना रह पाएं।

क्या आपको पता है कि हर प्रश्न के साथ कितनी रिस्पॉन्सिबिलिटी, कितना हार्डवर्क और कितना डेडिकेशन भी आता है। हमारा शॉर्टकट ढूंढने वाला माइंड हमेशा वो रास्ते तलाश करता है, जहां हमे मेहनत न करनी पड़े। इसलिए ज्यादातर लोग उन चीजों पर फोकस करते हैं जो वो कंट्रोल नहीं कर सकते।

2. Mentally strong (मेंटली स्ट्रांग) लोग past में जिन्दगी नहीं जीते।

आपने कितनी बार लोगों को ये कहते सुना है कि मेरी शादी से पहले का टाइम बहुत अच्छा था। मेरी पुरानी job अच्छी थी। मेरे डैड अगर जिंदा होते तो हालात कुछ अच्छे होते । काश वो टाइम फिर आ जाए।

जो लोग mentally strong नहीं होते हैं, वो पास्ट में ही जीते हैं। जो टाइम जा चुका है वो उस पर अफसोस करने में टाइम वेस्ट करते हैं।

दूसरी तरफ जो लोग mentally strong होते हैं, वो पास्ट के बारे में सोच सोचकर अपना टाइम वेस्ट नहीं करते बल्कि प्रेजेंट पर फोकस करते हैं और फ्यूचर की प्लानिंग करते हैं। उनके लिए past सिर्फ एक लेसन होता है।

उन्हें पता होता है के पास्ट एक मेमोरी है और उस पर अफसोस करने से कोई फायदा नहीं और अफसोस करने से ना तो वो टाइम और ना ही वो लोग फिर से वापस आ सकते हैं।

3. मानसिक रूप से मजबूत लोग दूसरे अमीर और सक्सेसफुल लोगों से जलते नहीं हैं।

एक ऐसा इंसान जो मेंटली स्ट्रांग नहीं है, उसके सामने से एक शानदार car गुजर जाए तो वो कहता है ये कार तो उन्होंने दो नंबर के पैसों से ली होगी। अमीर लोग तो गरीबों का खून चूसकर ही पैसा बनाते हैं और सिर्फ पैसों की ही बात नहीं है जो लोग mentally strong  नहीं होते हैं।

उनकी सोच मोस्टली ये हर बात में नेगेटिव होती है। अगर कोई क्रिकेटर अच्छा खेलता है तो उसके बारे में कहेंगे वो तो बस कमजोर टीम के सामने अच्छा खेलता है। मैं कहता हूं वो आपसे ज्यादा प्रैक्टिस करता है। उसकी टेक्निक कितनी अच्छी है और अगर जिम में कोई अच्छे शेप में दिख गया तो कहेंगे कि उसने पता नहीं अच्छे स्टीरोइड से ऐसी बॉडी बनाई होगी।

हर कोई अच्छी बॉडी बनाने के लिए स्ट्रेवाइड यूज नहीं करता है। इस बात पर बिलीव करना आपके लिए काफी मुश्किल है। बट अगर वो स्टेरॉयड पर है तो उसका वर्क एथिक्स आपसे हंड्रेड टाइम्स बेटर है।

अगर किसी के पास अच्छी बाइक देख लेते हैं तो कहते हैं ये तो अमीर बाप की बिगड़ी हुई औलाद है जरूरी नहीं है कि अमीर बाप की औलाद बिगड़ी हुई ही हो।

दूसरी तरफ मानसिक रूप से मजबूत लोग एक शानदार कार को देखकर उसके ओनर से जलता नहीं, उस कार की तारीफ करता है। वो कहता है कि एक दिन में भी ऐसी ही कार खरीदूंगा मुझे पैसा कमाना नहीं आता है तो मैं सीखूंगा मैं बुक्स पढ़ना स्टार्ट करूंगा। मेंटर्स से सलाह लूंगा, वो उनकी सक्सेस को देखकर खुश होते हैं और इंस्पायर होते हैं।

 4. मेंटली स्ट्रांग लोग एक ही मिस्टेक बार बार नहीं दोहराते।

इमैजिन आप एक यूट्यूब चैनल स्टार्ट करते हो और गोल सेट करते हो कि एक साल में आप 1 लाख सब्सक्राइबर्स बना लोगे उसके लिए आप एक एक्शन प्लान बनाते हों और वीडियोज बनाना शुरू करते हो।

एक साल गुजरने के बाद आपको सिर्फ 100 लोग सब्सक्राइब करते हैं और वो भी मोस्टली आपके फ्रेंड्स और रिलेटिव्स जिनको आपने फोर्स किया था। सब्सक्राइब करने के लिए फिर भी आप सेम एक्शन प्लान पर काम करते रहते हो, सेम बोरिंग वीडियोस बनाते रहते हो। इस उम्मीद पर कि शायद अब अगले साल आपको 1 लाख सब्सक्राइबर्स मिल जाएंगे।

फाईनली आप youtube से तौबा कर लेते हो और सोच लेते हो कि ये आपके बस की बात नहीं है और अब आप एक नया गोल सेट कर लेते हों कि अब आप एक ठीकठाक सी जॉब कर लोगे।

एक mentally strong व्यक्ति यहां क्या करता वो अपना गोल चेंज करने की जगह अपना एक्शन प्लान चेंज करता। वो ये सवाल करता कि मेरे वीडियो लोग क्यों नहीं देख रहे और क्या मेरे वीडियोज बोरिंग हैं? दुसरा प्रश्न  में अपने वीडियोज इम्प्रूव करने के लिए क्या कर सकता हूं। ठीक है तो आप मुझे इस तरह के वीडियोज नहीं बनाने।

अब मैं दूसरी तरह के वीडियोज बनाऊंगा। वहीं सेम बोरिंग वीडियोज बनाने की मिस्टेक बार बार नहीं करता। वह अपने failure से सीखकर एक नए तरह के कंटेंट के साथ वीडियोज बनाता है।

 5. Mentally strong लोगों को डर नहीं रहता की लोग उनसे कुछ छीन लेंगे।

आजकल हो ये रहा है कि एवरेज एम्प्लाइज खुद की सैलेरी कंपेयर कर रहे हैं हाईली स्किल्ड एक्सपीरियंस एग्जीक्यूटिव से। उन्हें लगता है कि कंपनी उनका हक मार रही है। जितनी सैलेरी उन्हें मिल रही है, वे उससे कई ज्यादा के हकदार है।

कइयों को लगता है कि उनका बॉस उनके खून पसीने की कमाई पर ऐश कर रहा है। इन्हें लगता है कि इनकी जो प्रॉब्लम है बस वही दुनिया की सबसे बड़ी प्रॉब्लम है और इन्हें यह भी लगता है कि इनकी सारी प्रॉब्लम्स के जिम्मेदार दूसरे लोग हैं।

ऐसे लोग कुछ शेयर नहीं कर सकते। ऐसे लोग आइडिया शेयर नहीं करेंगे, नॉलेज शेयर नहीं करेंगे। अपनी चीजें शेयर नहीं करेंगे। अपनी सक्सेस शेयर नहीं करेंगे। उन्हें डर रहता है कि अगर वो आइडिया शेयर करेंगे तो कोई और सक्सेसफुल हो जाएगा। ये सारी निशानियां भी mentally weak लोगों की हैं।

Mentally strong लोग जो होते हैं वो सेल्फ अवेयर होते हैं। अपनी वैल्यू जानते हैं वो उनके साथ होने वाली हर बात की जिम्मेदारी लेते हैं।

उनकी सैलेरी कम है तो वो मानते हैं कि उनकी स्किल्स भी कम हैं और वो अपनी स्किल्स इंप्रूव करने पर फोकस करते हैं। उनकी लाइफ में जो भी प्रॉब्लम है वो मानते हैं कि ये सिर्फ और सिर्फ उनकी ही रिस्पॉन्सिबिलिटी है और किसी की नहीं है। उनकी लाइफ में जो भी हो रहा है ये उनके ही डिसीजन से हो रहा है। ऐसे एटीट्यूड वाले लोग दुनिया में किसी से नहीं डरते।

तो दोस्तों ये था हमारा article mentally strong (मैंटली स्ट्रांग)  लोगो की 5 आदते (Habits of  mentally strong people in hindi )  उम्मीद है लेख आपको पसंद आया होगा। comment मे हमे अपने विचार जरूर बताये।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Leave a Reply

Your email address will not be published.