9 Best Naval Ravikant quotes in hindi

0
(0)

 

Naval ravikant


Naval Ravikant quotes in hindi – 

Naval Ravikant एक entrepreneur ओर एक invester हैं और वो पॉपुलर हैं  अपने जीने के तरीकों और ऐसी wise advice देने के लिए जिसे सुनते ही हर इंसान के अंदर एक light bulb on हो जाता है। उनकी  genrational पैसा बनाने, खुश रहने, greatness हासील करने, सफल रहने, किताबे पढ़ने और अच्छी आदते बनाने की advice इतनी timeless है कि हर इंसान ही उनकी teaching व quotes को अपनी लाइफ में अप्लाई कर सकता है और अपनी लाइफ के हर एरिया को ही improve कर सकता है।

Naval Ravikant के विचार इसलिए इतने सच और obvious लगते हैं क्योंकि वो खुद भी काफी होलिस्टिक हैं। वो अमीर भी हैं, वो खुश भी हैं, वो बुक्स पढ़ते हैं, उनको फिलॉसफी में भी interest है और उन्हें health की भी नॉलेज है। यही कारण है कि  क्यो हमारे लिए Naval Ravikant के quotes  को जानना बहुत लाभदायक़ हो सकता है।

इसलिए  इस आर्टिकल (Naval Ravikant quotes in hindi) मे हम Naval Ravikant के 9 quotes को discuss करेंगे जिनसे आपको बहुत कुछ नया सीखने को मिलेगा और आपको life changing एडवाइस मिलेगी।

Naval Ravikant quotes in hindi

 1.  खुद को एक abnormal loser की तरह देखने से शुरूआत करो।

यहां Naval Ravikant  ये नहीं बोल रहे कि आप एक loser हों या फिर आपको अपनी self esteem खुद ही destroy कर लेनी चाहिए, बल्कि वो बोल रहे हैं कि हर इंसान खुद को स्मार्ट, सक्सेसफुल और हर समय खुद को सही दिखाना चाहता है, जबकि सक्सेस सिर्फ उन्हीं लोगों को मिलती है जो खुद के अंदर की uniqness को ढूंढ पाते हैं और वो काम करते हैं जो एवरेज लोग नहीं करते।

loser होने की फीलिंग आपको अपने अंदर छुपे best ideas को बाहर लाने के लिए force करेगी। Naval बोलते हैं कि अगर आप खुद को एक लूजर की तरह देखोगे जिसको सोसाइटी ने रिजेक्ट कर दिया है और उसका सोसाइटी में ज्यादा कोई बड़ा रोल नहीं है। तब आप अपने दिल की कर सकते हो और आपके सक्सेस तक पहुँचने के चांसेस ज्यादा होते हैं।

शुरू में खुद को ये बोलना मददगार हो सकता है कि मैं कभी पॉपुलर नहीं बनूंगा, मुझे सोसाइटी एक्सेप्ट नहीं करेगी और मैं already एक loser हूं, मुझे वो नहीं मिलेगा जो दूसरे लोगों के पास है इसलिए जैसा मैं हूं। मुझे उसी में खुशी ढूंढनी पड़ेगी। इस quote की लास्ट लाइन ही नॉवेल के यूनीक thought को एक्सप्लेन करती है। उनके हिसाब से हम तब तक अपने यूनीक टैलेंट को छुपाते रहेंगे जब तक हम खुद के लिए नहीं बल्कि दूसरों के जजमेंट के बेसिस पर एक्शन लेंगे।

 2. किताबे आपकी जिंदगी बदल देगी।

Naval Ravikant बोलते हैं कि मैं हमेशा से ही किताबों पर बहुत से पैसे लगाता आया हूं, लेकिन मैं इसे एक एक्सपेंस की तरह नहीं बल्कि एक investment की तरह देखता हूं। इसके साथ ही वो बोलते हैं कि जब भी हम किसी किताब को पढ़ने के लिए उठाते हैं, तब ये जरूरी नहीं है कि हम उसे कवर टू कवर पढ़ें और जब तक वो किताब खत्म ना हो तब तक कोई दूसरी किताब ना खोलें।

इसके बजाय Naval बोलते हैं कि अपने इंटरेस्ट का पीछा करें। अगर आपको एक बुक अपनी तरफ बुला रही है तो ठीक है उसे खोलो और तब तक पढ़ो जब तक आप उसमें से कुछ insights नहीं निकाल लेते और आपका इंट्रेस्ट उसमें बना रहता है, लेकिन जैसे ही आप बोर हो जाते हो तब उस किताब को बंद करके एक दूसरी किताब को उठाना बिल्कुल नॉर्मल है।

किताबे पड़ने को ऐसे मत देखा करो कि आप एक स्कूल में हो और आपको कोई शुरू से अंत तक पड़ने लेने के लिए फोर्स कर रहा है, क्योंकि ऐसे तो आप रीडिंग को hate करने लगोगे और नॉलेज से दूर भागोगे। इवन अगर आप एक किताब को पढ़ते टाइम कहीं अटक जाते हो और आप आगे नहीं बढ़ पा रहे तो पड़ने से थोड़ा ब्रेक लो। जो चीज पढ़ने को यूजफुल बनाती है, वह है आपकी curiosity और knowledge की भूख। जैसे ही ये दोनों चीजें सेटिस्फाई हो जाएं तब आपको वो किताब बंद कर देनी चाहिए।

 3. आप स्मार्ट तब कहलाते हो जब आप मुश्किल चीजों को सिंपल बना पाते हों।

Naval  बोलते हैं कि उनके हिसाब से असली जीनियस वो होते हैं जो मुश्किल से मुश्किल चीजें भी एक बच्चे को समझा सकते हैं। अगर आप कोई चीज एक बच्चे को नहीं समझा सकते तो उसका मतलब आपको उसकी कंप्लीट नॉलेज नहीं है। हर नॉलेज एक कुएं की तरह होती है, जिसमें अलग अलग ऊचाइयां या फिर लेवल होते हैं। जो लोग खुद को स्मार्ट दिखाते हैं और सिम्पल चीजों को भी कठिन बना देते हैं  वो इस कुएं के सिर्फ एक सर्टेन पॉइंट से ही वाकिफ होते हैं। जबकि एक असली जीनियस पूरे कुएं को ही नापकर बैठा होता है। उसकी नॉलेज होल्ड होती है और उसके बेसिक्स उसके दिमाग में एकदम क्लीयर होते हैं।

 4. हमेशा अच्छे डिसीजंस लेने के लिए mental models बनाओ।

Mental models हमारे मन में बने हुए ढांचे या फिर एक equation की तरह होते हैं, जिसमें कोई भी प्रॉब्लम डालने पर हमें सही सॉल्यूशन मिल जाता है। एग्जाम्पल के तौर पर मेरे खुद के mental models में से सबसे स्ट्रॉन्ग model है सच बोलने का। यानी मैंने इतने सारे evidence इकट्ठे कर लिए हैं,इतने wise लोगों की बातें सुन ली हैं, इतनी बुक्स पढ़ ली हैं और लोगों के लाइफ पैटर्न को observe कर लिया है कि मेरे दिमाग में एक ढांचा है जिसपर मैं कोई भी प्रॉब्लम या डिसीजन लु मुझे पता होता है कि लॉन्ग टर्म में मैं सच पर रिलाय कर सकता हूं और मेरा सच पर बेस्ड डिसीजन कभी भी मुझे गलत या फिर गिल्टी नहीं फील करवाएगा।

Naval Ravikant बोलते हैं कि हमारा दिमाग एक मेमरी प्रोटेक्शन मशीन की तरह चलता है। यानी अगर past X हुआ था था तो हम बोल सकते हैं कि फ्यूचर में भी X जरूर होगा।

इसी तरह से अपने बेसिक्स को क्लियर करो classic और timeless knowledge हासिल करके।‌ अगर आपको बिजनेस खड़ा करना है तो उन प्रिंसिपल्स को अप्लाई करो जो हमेशा से काम करते आए हैं। अच्छी लाइफ जीनी है तो ये देखो कि अब तक लोगों की लाइफ को अच्छा बनाने वाली चीजें क्या रही हैं। इसी तरह से अपने genuine mental models बनाओ।

5.  Life  एक single player गेम है।

ज्यादातर लोग सोचते हैं कि life एक multi player गेम है जहां सक्सेस, पैसा और स्टेटस बहुत ईजिली मेजर किया जा सकता है। लेकिन ऐसी गेम में inner happiness और inner peace को मेजर करना इम्पॉसिबल होता है।

हमें सोसाइटी में अलग अलग गेम्स खेलने को बोला जाता है कि हम कभी पढ़ाई करें, कभी दोस्तों के साथ ड्रिंक करें या फिर सक्सेस हासिल करें ताकि गेम के दूसरे प्लेयर्स हमसे इम्प्रेस हों। लेकिन true happiness external नहीं बल्कि internal होती है और हमें खुद को train करना होता है अपने अंदर खुशी ढूंढ़ने के लिए।

इसलिए इस तरह से सोचो कि आप एक single player गेम में हों, जहां आप सिर्फ अपने आप से कंपीट कर रहे हों और आपको किसी भी external validation की जरूरत नहीं है।

6. Self esteem का मतलब है खुद के साथ एक रिलेशनशिप बनाना।

यानी खुद से ये पूछो कि आपको बुरे काम करने से कौन रोकता है दूसरे लोग या फिर आपके खुद के moral. Naval बोलते हैं कि जितने अच्छे काम करोगे उतने ही आप खुद को रिस्पेक्ट और प्यार करोगे। लेकिन जब आप दूसरों से झूठ बोलोगे तब आप खुद से भी झूठ बोलेगे और धीरे धीरे आप खुद को कम्पेयर करने लगेंगे और आपकी self esteem भी कम हो जाएगी।

Wise लोग वो होते हैं जो इसलिए बुरा कहना बंद नहीं कर देते क्योंकि दूसरे लोग उन्हें देख रहे हैं बल्कि इसलिए क्योंकि वो देख रहे हैं। आप दूसरों से तो दूर भाग सकते हो, लेकिन खुद से नहीं। इसलिए कोई भी काम ऐसा मत करो जो आपके अंदर self hate, guilt  या shame जैसी फीलिंग्स को जन्म दे।

7. अमीर होने के बेसिक फॉर्मूला को अप्लाई करें।

Naval एडवाइस करते हैं कि अमीर होने को सबसे पहले एक लॉन्ग टर्म गेम की तरह देखो, जहां आप बस rach नहीं बल्कि wealth बनाने पर फोकस होते हो। वह बोलते हैं कि आपको wealth क्रिएट करने के लिए तीन चीजें चाहिए। specific knowledge, accountability और leverage.

आपकी specific knowledge स्कूल जाने से नहीं बल्कि अपनी curiosity को फॉलो करने से बनती है।

accountable होने का मतलब होता है कि आप खुद के नाम पर रिस्क ले रहे हो और अपनी कमिटमेंट शो कर रहे हों बजाय अपनी सक्सेस की रिस्पॉन्सिबिलिटी दूसरों के कंधों पर लादने से।

Leverage का मतलब किसी भी एक्शन के थ्रू मैक्सिमम एडवांटेज निकल पाना।

 8. महान लोगों को हमेशा महान रिजल्ट्स ही मिलते हैं।

यंग लोग जिनके सपने बहुत बड़े होते हैं वह खुद को बहुत जल्दी जज कर लेते हैं। उन्हें लगता है कि और already सक्सेस डिजर्व करते हैं और उन्हें हर चीज जल्दी से जल्दी चाहिए होती है, लेकिन Naval जो नई टेक्नोलॉजी बनाने वाले लोगों के साथ रेगुलरली काम करते हैं वो ये बोलते हैं कि अगर आपके अंदर महानता है तो आपको सक्सेस भी मिल ही जाएगी। great लोगों को great outcomes मिलती है।

ofcourse greatness हासिल करने में जितना समय हम एक्सपेक्ट करते हैं उससे कई गुना ज्यादा समय लगता है, लेकिन जो लोग सबसे अलग आइडियाज प्रोड्यूस करते हैं और पेशेंट बने रहते हैं, वह आगे चलकर सबसे ज्यादा सक्सेसफुल बनते हैं। इसलिए जल्दी सक्सेस हासिल करने पर नहीं बल्कि खुद को एजुकेट करते रहने और नए कॉन्टैक्ट्स बनाने पर अपना फोकस रखो।

9.  Desire suffering  क्रिएट करती है।

Naval Ravikant बोलते हैं कि desire एक contract होता है जो आप खुद के साथ बनाते हो। तब तक दुखी रहने के लिए जब तक आपको वह नहीं मिल जाता जो आपको चाहिए। ये चीज आपको अपने गोल तक पहुंचने में और धीमा कर देती है क्योंकि एक फ्यूचर की desire से attachment हमारे प्रेजेंट में हमें दुखी और incomplete feel कराती है।

जिस वजह से हम खुशी और excitement के साथ नहीं बल्कि दर्द और चिंता के साथ काम करते हैं और ये चीज हमारे काम की quality को भी नेगेटिव influence करती है। इसलिए traphy से नहीं बल्कि game से प्यार करो।

तो दोस्तों ये था हमारा आर्टिकल Naval Ravikant quotes in hindi हमे उम्मीद है यहा आपको पसंद आया होगा। comment मे हमे अपने विचार जरूर बताये।

FAQ about Naval Ravikant

Naval Ravikant quotes on reading

Novel Ravikant books reading के बारे में कहते है की  हम किसी books को reading के लिए उठाते हैं, तब ये जरूरी नहीं है कि हम उसे कवर टू कवर पढ़ें और जब तक वो book खत्म ना हो तब तक कोई दूसरी किताब ना खोलें।

इसके बजाय Naval बोलते हैं कि अपने इंटरेस्ट का पीछा करें। अगर आपको एक बुक अपनी तरफ बुला रही है तो ठीक है उसे खोलो और तब तक पढ़ो जब तक आप उसमें से कुछ insights नहीं निकाल लेते और आपका इंट्रेस्ट उसमें बना रहता है, लेकिन जैसे ही आप बोर हो जाते हो तब उस book को बंद करके एक दूसरी किताब को read  करना बिल्कुल नॉर्मल है।

Navel Ravikant quotes on money

Naval एडवाइस करते हैं कि अमीर होने को सबसे पहले एक लॉन्ग टर्म गेम की तरह देखो, जहां आप बस reach नहीं बल्कि money बनाने पर फोकस होते हो। वह बोलते हैं कि आपको money क्रिएट करने के लिए तीन चीजें चाहिए। specific knowledge, accountability और leverage.

Noval quotes on happiness

Naval Ravikant बोलते हैं कि  happiness हासील न करने का एक बड़ा कारण है desire. Desire एक contract होता है जो आप खुद के साथ बनाते हो तब तक दुखी रहने के लिए जब तक आपको वह नहीं मिल जाता जो आपको चाहिए। ये चीज आपको अपने गोल तक पहुंचने में और धीमा कर देती है क्योंकि एक फ्यूचर की desire से attachment हमारे प्रेजेंट में हमें दुखी और incomplete feel कराती है।

Naval Ravikant quotes on life

life में इस तरह से सोचो कि आप एक single player गेम में हों, जहां आप सिर्फ अपने आप से कंपीट कर रहे हों और आपको किसी भी external validation की जरूरत नहीं है।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Leave a Reply

Your email address will not be published.